User-agent: * Disallow: /wp-admin/ Allow: /wp-admin/admin-ajax.php Sitemap: https://satta-play.in/sitemap_index.xml SIP Investment : इन कारणों से SIP में निवेश करना है जरुरी - SATTA PLAY

SIP Investment : इन कारणों से SIP में निवेश करना है जरुरी


पिछले कुछ सालों में म्यूचुअल फंड निवेश तेजी से बढ़ा है, धीरे-धीरे यह निवेशकों की पहली पसंद बनता जा रहा है. म्यूचुअल फंड निवेश को और अधिक आकर्षक बनाने का काम कर रहा हैं एसआईपी (SIP). यह एक ऐसा माध्यम है जिसमे निवेशक एकमुश्त निवेश के बजाय हर महीने आसान किस्तों में अपना निवेश शुरु कर सकता है. सिप एक रेगुलर इन्वेस्टमेंट है, जहां एक फिक्स राशि का चुनाव कर हर महीने अपने पसंद के म्यूचुअल फंड में निवेश किया जा सकता है.

मार्केट टाइमिंग की आवश्यकता नहीं

जब आप शेयर्स में निवेश करेंगें या म्यूचुअल फंड में एकमुश्त निवेश करेंगें तो मार्केट के नीचे आने का इन्तेजार करेंगें ताकि कम दाम में निवेश किया जाए और दाम बढ़ने पर मुनाफा कमाया जाए, परन्तु SIP के साथ ऐसा नहीं है, आप इसे कभी भी शुरु कर सकते हैं, यह बाजार रिस्क को औसत करता है. हर माह निवेश से आप बाजार के हर चाल पर निवेश करते हैं जोकि लॉन्ग टर्म में बेहतरीन रिटर्न दे सकता है.

औसत लागत

जैसा की हमने बताया आप एक फिक्स राशि का निवेश हर माह करते हैं, इससे बढ़े हुए NAV दाम में आप कम यूनिट्स खरीद पाते हैं और नीचे गिरे हुए दाम में अधिक यूनिट्स खरीद पाते हैं.

कम्पाउंडिंग और स्टेप-अप का फायदा

जब आप SIP के जरिये छोटी-छोटी राशि का निवेश लम्बे समय तक करते हैं तो कम्पाउंडिंग का लाभ मिलता है नतीजतन छोटा निवेश एक बड़े फंड के रुप में तैयार हो जाता है.

इसके अलावा आप अपने रिटर्न को और अधिक बढ़ाने के लिए Step Up SIP का सहारा ले सकते हैं स्टेप अप एसआईपी निवेश को हर साल 5 से 10 प्रतिशत बढ़ाने की अनुमति देता है.

बिना झंझट निवेश

म्यूचुअल फंड में एसआईपी वह तरीका है जिसे नए से नए निवेशक आसानी से कर सकते हैं, आपको बस अपने वित्तीय सलाहकार से अच्छे से अच्छे फंड की जानकारी लेनी है, फिर बिना किसी टेंशन के निवेश शुरु कर दें, आगे टेंशन लेने की जुम्मेदारी फंड मैनेजर की है.

जब आप एसआईपी करते हैं तो अपने बैंक अकाउंट को लिंक करते हैं जिससे बिना किसी झंझट के हर महीने खाते से SIP राशि कट जाती है. यह बहुत ही आसान है.

यह पढ़ें : कम जोखिम पर अधिक रिटर्न, इंडेक्स म्यूचुअल फंड जानें किसे करना चाहिए निवेश

SIP में High Return पाने के लिए क्या करें

जल्दी निवेश शुरु करें

चूँकि म्यूचुअल फंड लॉन्ग टर्म में कम्पाउंडिंग का फायदा देता है इसलिए निवेश जितनी जल्द शुरु करें उतना बेहतर है.

लक्ष्य बनाकर निवेश करें

आमतौर पर म्यूचुअल फंड निवेश लक्ष्य बनाने और उसे पूरा करने के लिए ही बना है इसलिए निवेश से पहले अपना गोल सेट करें, जितना बड़ा गोल होगा निवेश अवधि या निवेश राशि उतनी अधिक बढ़ानी होगी.

किसी भी हाल में SIP ना रोकें

अधिकतर निवेश SIP शुरु करने के बाद कुछ ही समय में निवेश छोड़ देते हैं जबकि SIP लॉन्ग टर्म निवेश नजरिये के लिए होता है, शॉट टर्म में कितने भी उतार चढाव आये SIP जारी रखें, आखिरकार मार्केट को ऊपर ही जाना है.

हमारे व्हाट्सअप और टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ें

Join शेयर बाजार म्यूचुअल फंड
व्हाट्सअप ग्रुप Join Join
टेलीग्राम ग्रुप Join

Disclaimer : यह आर्टिकल रिसर्च और जानकारियों के आधार पर बनाया गया है, हमारे द्वारा किसी भी प्रकार की फाइनेंसियल एडवाइज नहीं दी जाती अगर आप निवेश करना चाहते हैं तब सबसे पहले अपने फाइनेंशियल एडवाइजर से सलाह लें

Leave a Comment